इस बिहारी छात्र ने किया कमाल का अविष्कार, अब जूतों से चार्ज होगा मोबाइल और सेना वायरलेस का सेट, ये हैं इस जूतें की खासियत

1 min


0

बिहार में प्रतिभाशाली युवाओं की कमी नहीं हैं, इस बात से आज पूरी दुनिया सहमत है. यहां के युवा देश और दुनिया अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा चुके हैं. इसी बीच बिहार के ग्यारहवीं के एक छात्र ने कुछ ऐसा किया है जिसके बाद उसकी तारीफ पुरे देश में हो रही है. इस छात्र ने एक ऐसे जूते का अविष्कार किया है. जिसका इस्तमाल आम आदमी से लेकर सेना के जवान तक कर सकते हैं. छात्र द्वारा बनाये गये इस जूते से सेना के जवान से लेकर आम आदमी कोई अभी अपना मोबाइल फोन या वायरलेस सेट रिचार्ज कर सकता है. इस विशेष जूते में पिजो इलेक्ट्रिक से बिजली पैदा होती है. जिससे जूते में लगा पॉवरबैंक खुद चार्ज होता है.

जिला मुख्यालय से करीब 70 किलोमीटर दूर बैकुंठपुर प्रखंड के बिहार के गोपालगंज के बनौरा गांव का विवेक कुमार देश की सीमा पर तैनात जवानों के लिए एक ऐसे जूते का अविष्कार कर रहा है. जिस जूते को पहनकर चलने से ही उस जूते में लगा पॉवर बैंक खुद चार्ज हो जाता है.

फिर जब सीमा पर तैनात सेना के जवानों का मोबाइल या वायरलेस सेट की बैटरी ख़त्म हो जाती है. तब इस रिचार्जेबल जूते से वे अपना इलेक्ट्रॉनिक गैजेट दोबारा चार्ज कर सकते है. यह उन लोगों के लिए भी कारगर साबित होगा. जब कोई घर से बहुत दूर ड्यूटी कर रहा हो. और अचानक उनका मोबाइल डिस्चार्ज हो जाए.

विवेक कुमार के मुताबिक आप जब जूता पहनकर टहलते हैं, तब जूते में लगा पॉवरबैंक खुद चार्ज होता रहता है. इस जूते के सोल में पिजो इलेक्ट्रिक सप्लाई करने के लिए सेंसर लगे हुए है. जिससे चलने के दौरान सेंसर पर दबाव पड़ते ही पॉवर बैंक चार्ज होने लगता है. अगर मोबाइल रिचार्ज करने के दौरान आपका पॉवर बैंक डिस्चार्ज भी हो जाए. तो टेंशन की बात नहीं है. आप सिर्फ खुद कुछ दूर टहल ले. फिर आपके जूते में लगा पॉवर बैंक दोबारा रिचार्ज करने के लिए कामयाब हो जायेगा. कहा जा रहा है कि विवेक ने और भी कई अविष्कार किये है. जिसकी जमकर तारीफ हो चुकी है.


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: