अलग समुदाय से प्रेम और अंकित को ऐसे उतारा मौत के घाट, लड़की के माँ ने भी किया नीच काम, देश में हर्रोर किलिंग


0

पश्चिमी दिल्ली के रघुवीर नगर इलाके में 23 साल के अंकित सक्सेना की हत्या केवल इसलिए कर दी गई क्योंकि वो किसी दूसरे धर्म की लड़की से प्यार करता था। अंकित की जब हत्या की जा रही थी तब इलाके के काफी लोग तमाशबीन बने रहे। अंकित चिल्लाता रहा लेकिन किसी ने उसको बचाने की कोशिश नहीं की। पुलिस ने इस मामल में तीन लोगो को गिरफ्तार किया है।

पुलिस के अनुसार, बेटे को बचाने आई अंकित की मां पर भी लड़की की मां ने हमला किया। वहीं अंकित के पिता यशपाल ने कहा कि जब उसे चाकू मार रहे थे तो बेटे ने मदद की गुहार लगाई, फिर बेहोश हो गया। अंकित की हत्या उसके मां बाप के आंखो के सामने की गई। दिल्ली बीजेपी चीफ मनोज तिवारी ने अंकित के परिजनो से मुलाकात की और कहा कि सुनियोजित अपराध को सांप्रदायिक रंग नहीं दिया जाना चाहिए। उन्होंने दोषियों पर सख्त कार्रवाई की मांग करते हुए अंकित के परिवार के लिए एक करोड़ रुपए मुआवजे की मांग की है।

‘अंकित की मां उसके गले पर चुन्‍नी बांधकर खून का बहाव रोकने की कोशिश करते हुए मदद मांग रही थी’
मृत अंकित के पिता यशपाल ने कहा ने कि अंकित की मां उसके गले पर चुन्‍नी बांधकर खून का बहाव रोकने की कोशिश करते हुए मदद मांग रही थी, लेकिन उधर से गुजर रहे लोग जो तस्‍वीरें लेने के लिए रुके थे, मदद नहीं की। आरोपी सिर्फ एक ही बात कह रहे थे कि लड़की को तुमने गायब किया है। उनके ऊपर खून सवार था। वहां मौजूद लोगों ने अंकित को उठाने व रिक्शे से ले जाने के दौरान कोई मदद नहीं की। उन्होंने कहा कि जब तक हमलावरों को सख्त से सख्त सजा नहीं मिलेगी तब तक बेटे की आत्मा को शांति नहीं मिलेगी।

लड़की की मां ने मुझे फुटपाथ पर धकेल दिया’
घटना गुरुवार शाम 8.30 बजे हुई। अंकित की मां कमलेश ने कहा ‘मैंने उन्‍हें (आरोपियों) रोकने की कोशिश की मगर लड़की की मां ने मुझे फुटपाथ पर धकेल दिया और सीने पर लात मारी। उस परिवार ने मेरे बेटे पर उनकी लड़की को अगवा करने का आरोप लगाया। मैंने उनसे कहा कि मेरा बेटा बेकसूर है और वे चाहें तो पुलिस को बुला लें। मैंने उसने अपने घर की तलाशी लेने को भी कहा। उन्‍होंने सुना नहीं और मेरे बेटे को मारते रहे। उधर से गुजर रहे लोग जो तस्‍वीरें लेने के लिए रुके थे, मदद नहीं की। किसी ने पुलिस कंट्रोल रूम को फोन तक नहीं किया।

मुस्लिम समुदाय की युवती से संबंध था
इस घटना के बारे में डीसीपी विजय सिंह ने बताया कि इस बात को लेकर दोनों पक्ष में बहस हुई थी कि अंकित सक्सेना का 20 वर्षीय अल्पसंख्यक समुदाय की युवती से संबंध था। पुलिस के अनुसार युवती के माता-पिता, उसके चाचा और 16 साल के भाई युवती के प्रेम संबंध के खिलाफ ते, जिसके बाद गुरुवार दोपहर उनका उससे सामना हुआ और युवती से दूर रहने की चेतावनी दी। दोनों के बीच जब विवाद बढ़ा तो यह बहस झड़प में बदल गई। पुलिस ने बताया कि युवती के पिता ने अंकित सक्सेना का गला चाकू से काट दिया और फरार हो गए।


Like it? Share with your friends!

0
admin

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *