अरब से भारतीय कामगार ने भेजा तबा'ही, भारत सरकार ज़बरदस्त ACTION को तैयार

1 min


0

बिहार के सुपौल मेंशौहर ने पत्‍नी को फोन पर ही तीन तलाक दे डाला। उसका कसूर ये था कि उसे जुड़वा बेटियां हुईं थीं। फोन पर ही पति द्वारा तलाक, तलाक, तलाक कहे जाने के बाद पीड़िता महिला थाना पहुंची और पति, सास, ससुर व ननद सहित ससुर के खिलाफ मामला दर्ज करवाया।

महिला थाना में पुलिस ने पीड़िता के बयान पर कांड संख्या-40/19 दर्ज कर उसके ससुर को गिरफ्तार कर लिया है।
पीड़िता फरजाना खातून ने जुड़वां बेटी को गोद में लिए अपनी पीड़ा सुनाते हुए कहा कि उसका नैहर सदर थाना क्षेत्र के महेशपुर, वार्ड नं.-2 में है और अगस्त 2013 में उसकी शादी बसबिट्टी गांव वार्ड नं.-7 के हाफिज इकरामूल हक से हुई थी।
शादी के बाद जब वह ससुराल आई तो सास-ससुर मां-बाप से एक लाख रूपये मांग कर लाने का दबाव बनाने लगे कि तुम्हारा पति सउदी अरब जाएगा। जिसे अनसुना करने के बाद वे लोग प्रताड़ित करने लगे। अगस्त 2017 में उसने एक बेटी को जन्म दिया। उसके बाद तो पति सहित ससुराल के अन्य लोग और अधिक प्रताड़ित करने लगे।
 

एक बार रमजान के समय तो उसे मारपीट कर घर से भी बाहर कर दिया गया था। 20 जुलाई को उसने सदर अस्पताल में जुड़वां बेटी को जन्म दिया। तत्पश्चात सास कहने लगी कि मां-बाप से दो लाख रूपये मांग कर लाओ और दोनों के नाम से फिक्स कर दो।


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: