अरब से आया कामगार गिरफ़्तार, अरब से आने के बाद शुरू किया था ये काम


0

युवक दो साल पहले ड्राइवर की जॉब के लिए दुबई चला गया था, लेकिन अच्छी कमाई न होने के कारण वह दिल्ली लौट आया। यहां आकर वह एक गैंग में शमिल हो गया। इसके बाद वह इलाके के कारोबारियों और अन्य लोगों को धमकी देकर उगाही करने लगा। उसकी यह रंगदारी ज्यादा दिनों तक नहीं चली। जामिया नगर पुलिस ने उसे अरेस्ट कर जेल भेज दिया। आरोपी की पहचान जुनैद (22) के रूप में हुई। पुलिस ने उसके पास से एक पिस्टल और चार कारतूस भी बरामद किए।
 

 
डीसीपी चिन्मय बिस्वाल ने बताया कि जामिया नगर में अपराध पर काबू पाने के लिए अपराधियों की धर पकड़ की जा रही थी। जामिया नगर एसएचओ उपेन्द्र सिंह के नेतृत्व में टीम बनाई गई थी। इलाके में पुलिसकर्मियों की गश्त भी बढ़ा दी गई।
 

 
इलाके के सक्रिय अपराधियों की जानकारी एकत्रित की गई। तभी 8 नवंबर को पुलिस को सूचना मिली कि कारोबारी और व्यापारियों को धमकी देकर उगाही करने वाला जुनैद अबुल फजल एनक्लेव के पास आने वाला है। इस सूचना के बाद पुलिस ने बताई गई जगह पर ट्रैप लगा लिया। बदमाश जैसे ही वहां पहुंचा पुलिस ने उसे पकड़ने की कोशिश की, लेकिन वह बचकर भागने लगा। इतना ही नहीं उसने पिस्टल निकालकर पुलिस पर फायरिंग करने की भी कोशिश की। इससे पहले कि वह फायरिंग कर पाता पुलिस ने उसे दबोच लिया।
 

 
पूछताछ में पता चला कि वह मूलरूप से मेरठ का रहने वाला है और अब जामिया नगर में रहता है। दो साल पहले वह दुबई में ड्राइवर की नौकरी करने गया था, लेकिन कमाई न होने के कारण एक साल पहले दिल्ली लौट आया। फिर हथियार के बल पर जमीन पर कब्जा करने और धमकी देकर उगाही करने लगा।


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *