अरब सरकार ने किया बैन, भारत पैसा भेजना हुआ मुश्किल, सरकार ने ज़रू किए नए नियम


0

अभी-अभी संयुक्त अरब अमीरात से एक बड़ी खबर आ रही है संयुक्त अरब अमीरात सेंट्रल बैंक ने आज सोमवार को मनी एक्सचेंज कंपनियों के लाइसेंस को downgrade कर दिया है.  और साथ ही संयुक्त अरब अमीरात में वहां के निवासियों प्रवासियों से अपील किया है कि इन एक्सचेंजों का उपयोग पैसों को बाहर भेजने के लिए ना करें क्योंकि इनकी लाइसेंस इस मामले में होल्ड कर दी गई है क्योंकि इन लोगों ने संयुक्त अरब अमीरात के अंदर एक्सचेंज नियमों का धड़ल्ले से उल्लंघन किया है.

इस बाबत संयुक्त अरब अमीरात ने सात कंपनियों के नाम जारी किए हैं.
सात कंपनियों में ताहर एक्सचेंज एस्ट, अल हधा एक्सचेंज, अल हेम्रिया एक्सचेंज, दुबई एक्सप्रेस एक्सचेंज, साना एक्सचेंज, कॉसमॉस एक्सचेंज और बिन बेकीट एक्सचेंज एस्ट शामिल हैं।
 
 
संयुक्त अरब अमीरात के सारे शीर्ष बैंक ने कहा कि  एक्सचेंज हाउसेस ने एंटी-मनी लॉंडरिंग नियमों का भी उल्लंघन किया था।
 
शीर्ष बैंक ने संयुक्त अरब अमीरात के निवासियों को चेतावनी दी कि उन सात  एक्सचेंज हाउस के माध्यम से मजदूरी का भुगतान न करें। कंपनियां अब केवल विदेशी मुद्राओं की बिक्री और खरीद में सौदा कर सकती हैं.

संयुक्त अरब अमीरात ने प्रवासियों को लेकर यह एक बयान भी जारी किया कि इन एक्सचेंज हाउस से अपने पैसों की लेनदेन को तुरंत स्थगित करें क्योंकि ईद के दरमियान लेन-देन की मात्रा काफी बढ़ जाती है और ऐसे बाबत कोई दूसरी बड़ी अनहोनी ना हो इसलिए संयुक्त अरब अमीरात में पब्लिक नोटिस जारी कर दिया गया है.
 
आपको बताते चलें  संयुक्त अरब अमीरात में कई कंपनियां मुद्रा विनिमय घरों के माध्यम से अपने ब्लू-कॉलर श्रमिकों को भी मजदूरी का भुगतान करती हैं।
 


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *