0

ईद के मौके पर अरब देश से स्वदेश लौट रहे यात्री को रविवार की रात ही सोनपुर में बेहोशी की हालत में बरामद कर ली। यात्री को नशाखुरानी गिरोह ने अपना शिकार बनाकर उससे लूटपाट की थी। रविवार को जैसे ही यात्री की पहचान हुई सोनपुर से इसकी सूचना सिवान जीआरपी को दी गई। सूचना मिलने के बाद उसे बेहोशी की हालत में सोनपुर से सिवान लाया गया। जीआरपी ने इसकी सूचना परिजनों को भी दी।
 
 
बेहोशी की हालत में कुतुबद्दीन जैसे ही सिवान आया उसे सदर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। जहां उसका चल रहा है। पीड़ित की पत्नी अफसाना खातून ने बताया कि मेरे पति दिल्ली में फ्लाइट से उतर कर गाड़ी संख्या 19601 उदयपुर सीटी से न्यू जलपाइगुड़ी में सवार होकर घर आ रहे थे। इस गाड़ी में वह कोच संख्या ए2 में सीट नंबर 6 पर थे। गोंडा तक बातचीत हुई। इसके बाद उनका नंबर बंद आ रहा था। इसके बाद हमलोग
 
 
जंक्शन पहुंचे ट्रेन के आने के बाद बोगी की तलाशी ली गई तो वे सीट पर नहीं थे। इसी बीच ट्रेन खुल गई। ट्रेन को जैसे ही रोका गया आरपीएफ ने पकड़ लिया। लेकिन जब सारी जानकारी दी गई तो जीआरपी पहुंच कर आवेदन देने को कहा गया। इसके बाद जीआरपी ने इसकी सूचना छपरा कंट्रोल को दी। लेकिन ट्रेन सोनपुर के लिए रवाना हो चुकी थी। इसके बाद सोनपुर में ट्रेन को रोककर ए 2 बोगी के हर सीट की जब तलाशी ली गई तो 10 नंबर सीट पर कुतुबद्दीन बेहोशी की हालत में थे।
 
 
नशाखुरानी गिरोह ने नशा खिलाने के बाद कुतुबद्दीन को 10 नंबर की सीट पर सुला दिया था और चादर से ढक दिया था। पीड़िता ने बताया कि सारा सामान गायब था। इनके पास चार मोबाइल, एक टोली बैग जिसमें सामना था और 26 हजार रुपया कैश था जिसे नशाखुरानी वाले ने चोरी कर लिया। जीआरपी प्रभारी नंदकिशोर ¨सह ने बताया कि पीड़ित के परिजनों ने बताया कि अभी कुतुबद्दीन कुछ बताने की स्थिति में नहीं है होश में आने के बाद पीड़ित का आवेदन लिया जाएगा और आगे की कार्रवाई की जाएगी। पीड़ित यात्री का पासपोर्ट और पर्स सोनपुर से ही बरामद हुआ है।
 
नशाखुरानी गिरोह पर प्राथमिकी दर्ज की गई है


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: