अरब देश में दो हज़ार (2000) से ज़्यादा प्रवासियों ने इस्लाम क़ुबूला


0

UAE की दर अल बेर सोसाइटी के मुताबिक़, 2018 की पहली छमाही में 2,186 प्रवासियों ने इस्लाम कुबूल किया है. जिसमें सिर्फ 1,993 प्रवासियों ने दुबई में इस्लाम कुबूल किया है जबकि रस अल खैमाह शाखा में 193 प्रवासियों ने इस्लाम कुबूल किया है.

खलीज टाइम्स के मुताबिक, दार अल बेर के सीईओ अब्दुल्लाह अली बिन ज़ैद अलफालसी ने कहा कि इस्लामी सूचना केंद्र के माध्यम से, एसोसिएशन इस्लामी संस्कृति को बढ़ावा देने और संयुक्त अरब अमीरात की विदेशी आबादी के साथ सहिष्णुता, संयम और शांति के मूल्यों को उजागर करने का प्रयास करता है. दर अल बेर का उद्देश्य इस्लाम के बारे में गलत धारणाओं को दूर करना और नए मुस्लिमों के दिल में प्रामाणिक इस्लामी मूल्यों और अवधारणाओं को मजबूत करने पर काम करना है.
 
इस्लामी सूचना केंद्र-दुबई के निदेशक रशीद अल जुनीबी ने कहा कि केंद्र दुबई में अपने मुख्य कार्यालय में देखा गया और राक में शाखा महाद्वीपों से दुनिया भर के 35 से अधिक देशों जैसे एशिया, यूरोप, अफ्रीका, उत्तरी अमेरिका और दक्षिण अमेरिका के लोग शामिल है. इन सबीह प्रवासियों का कहना है की इन्होने मुस्लिमों में भाईचारा और प्यार देखा जसकी वजह से इन्होने इस्लाम कुबूल करने का फैसला किया है.

साथ ही इन प्रवासियों का कहना है कि इन्होने मुसलमानों को मस्जिद में नमाज़ पढ़ते देखा है और कुरान की तिलावत करते देखा जो इन्हें बेहद पसंद आया. साथ ऐसी बहुत सी बारीकियां है जिसकी बिनाह पर इस्लाम कुबूल किया है. साथ ही इन लोगों का कहना  है कि इस्लाम अमन का मज़हब है इसलिए वह इस्लाम कुबूल करके बेहद खुश है.
 
UAE में पिछले छह महीनों में केंद्र ने सांस्कृतिक खड़े इलाकों में विभिन्न स्थानों पर 436,660 शैक्षिक सामग्री वितरित करने सहित धार्मिक, सांस्कृतिक और सामाजिक पहलुओं को संबोधित करते हुए 1,951 वर्ग और व्याख्यान प्रदान करते हुए शैक्षिक, सांस्कृतिक और मनोरंजक गतिविधियों की एक विस्तृत श्रृंखला का आयोजन किया. जिसमें इस्लाम से जुडी कई ख़ास और अहम बातें बतायीं गयी.


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *