अमरीकी विमानो ने 3 हज़ार सीरियाई नागरिकों को मौत की नींद सुलाया, 800 बच्चे भी शिकार

1 min


0

सीरिया के हस्का इलाक़े के आवासीय क्षेत्रों पर अमेरिकी लड़ाकू विमानों ने भीषण बमबारी करके एक दर्जन नागरिकों को मौत के घाट उतार दिया।

 
सीरिया की सरकारी समाचार एजेंसी साना ने ख़बर दी है कि अमेरिकी युद्धक विमानों ने दक्षिण-पूर्वी प्रांत हस्का के जज़आ नामक गांव पर भीषण बमबारी करके कम से कम 10 आम नागरिकों को मौत की नींद सुला दिया है।
 
समाचारों में बताया गया है कि मारे गए लोगों में सभी महिलाएं और बच्चे हैं जो रोज़े से थे। अमेरिका और उसके सहयोगियों द्वारा पिछले तीन दिनों के दौरान हस्का के कई क्षेत्रों पर लगातार भीषण बमबारी की जा रही है।
 
अमेरिकी गठबंधन के लड़ाकू विमानों के हमलों में मारे गए अधिकतर लोग आम नागरिक थे। सीरिया में मानवाधिकार संगठन ने घोषणा की है कि वर्ष 2014 से अब तक, अमेरिकी युद्धक विमानों के हमलों में, हस्का, हलब, इदलिब और दैरुज़्ज़ूर में 3,000 से अधिक सीरियाई नागरिक मारे जा चुके हैं, जिनमें 800 बच्चे भी शामिल हैं।
 
अमरीका और उसके घटकों ने 2014 से आतंकवादी गुट दाइश के ख़िलाफ़ संघर्ष के नाम पर एक गठबंधन बना रखा है जो न तो संयुक्त राष्ट्र संघ के फ़्रेमवर्क में है और न ही सीरियाई सरकार से उसका समन्वय है। इस गठबंधन ने अब तक बड़ी संख्या में इराक़ और सीरिया में बेगुनाहों का ख़ून बहाया है।


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *