0

छपरा-सिवान रेलखंड पर दारौंदा व चैनवा स्टेशन के बीच गुरुवार को दारौंदा थाना क्षेत्र के कोड़ारी खुर्द गांव के समीप अप लाइन पर पटरी के किनारे लगी भीषण आग की चपेट में आने से बिहार संपर्क क्रांति सुपरफास्ट एक्सप्रेस बच गई। पछुआ हवा से विकराल हुई आग की लपटों के कारण आधा दर्जन गाडिय़ों को तीन घंटे तक विभिन्न स्टेशनों पर रोकना पड़ा।

जानकारी के अनुसार चैनवा स्टेशन के समीप किसी किसान ने अपने खेत में फैले पुआल में आग लगा दी थी। हवा के चलते आग बढ़ते-बढ़ते स्टेशन एवं रेलवे ट्रैक के पास तक पहुंच गई। पश्चिमी रेलवे लाइन के पास झाडिय़ों में आग लगने के बाद लपटों ने ट्रैक को चपेट में ले लिया।
 
 

 
 
अपराह्न करीब दो बजे बिहार संपर्क क्रांति को चैनवा स्टेशन से पास कराया गया। चालक ने दूर से आग की तेज लपटों को देख गाड़ी रोक दी। रेलकर्मियों के अनुसार अगर गाड़ी नहीं रोकी गई होती तो बड़ी दुर्घटना हो सकती थी। दारौंदा थाना क्षेत्र के कोड़ारी खुर्द गांव के लाइनमैन ने आग लगने की सूचना तुरंत फायर ब्रिगेड व अधिकारियों को दी।
 
 

 
 
आग बुझाने में रेल प्रशासन सहित रसूलपुर और दुरौंदा थाना पुलिस भी जुट गई। फायर ब्रिगेड बुलाए गए। कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। इसके बाद विभिन्न जगहों पर खड़ी ट्रेनों को आगे बढ़ाया गया।

 
 
 
 
इधर आग के कारण चैनवा-दारौंदा रेलखंड के बीच बिहार संपर्क क्रांति सुपरफास्ट खड़ी रही। दारौंदा रेलवे जंक्शन पर मालगाड़ी खड़ी थी। 12253 वैशाली सुपरफस्ट एक्सप्रेस अप, मौर्य एक्सप्रेस, 3019 काठगोदाम एक्सप्रेस विभिन्न स्टेशनों पर करीब दो से चार बजे तक खड़ी रहीं। चैनवा स्टेशन मास्टर ने बताया कि किसी चरवाहे ने ट्रैक किनारे की झाडिय़ों में आग लगा दी थी।


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: