अभी अभी एक ही दिन में भारत में दूसरा हाई अलर्ट लागू। गृहमंत्रालय ने जारी किया ये शख्त निर्देश

1 min


0

अभी अभी खबर पंजाब से थी जहां आतंकवादियों को लेकर हाई अलर्ट जारी किया गया है। वही दूसरी तरफ देश की राजनीति इस वक्त एक बार फिर राम मंदिर आ टिकी है। तमाम हिंदू संगठन और दल राम मंदिर बनाने के लिए एक दूसरे के आगे निकलने में लगे हैं। इस होड़ में आज जहां शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे शिवाजी की मिट्टी लेकर अयोध्या पहुंच रहे हैं वहीं रविवार को विश्व हिंदू परिषद की ओर से आयोजित धर्म सभा में बड़ी संख्या में समर्थक जुटने वाले हैं।

ऐसी परिस्थित में कोई अनहोनी न हो इसके लिए गृहमंत्रालय अलर्ट हो गया है। यही वजह है कि मंत्रालय की ओर से सुरक्षा बलों को निर्देश दिए हैं कि विवादित स्थल पर मौजूदा व्यवस्था से कोई छेड़छाड़ न हो।
 
 
दरअसल गृह मंत्रालय और उत्तर प्रदेश का गृह विभाग दोनों इस बार आशंकित है कि धर्म सभा में उम्मीद से ज्यादा लोग न जुट जाएं और इसका गलत फायदा अराजक तत्व न उठा लें। गृह मंत्रालय को खुफिया सूत्रों से भी जानकारी मिली है कि बेहद रणनीतिक तरीके से अयोध्या में लोग जुट रहे हैं।

 
लोग छोटी-छोटी टुकडिय़ों में पहुंच रहे हैं, ताकि पुलिस प्रशासन रोक न लगाएं। सूत्रों के मुताबिक उत्तर प्रदेश सरकार ने मंत्रालय को बताया है कि दीपावली से पहले ही राम भक्त जुटने लगे थे और उन्होंने वहां दीपावली भी बनाई थी। मंत्रालय को बताया गया है कि फिलहाल वहां जाने से किसी को रोका नहीं जा रहा है। क्योंकि ऐसा किया जाता है तो लोग भड़क सकते हैं।
वहीं उत्तर प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार से भी आग्रह किया है कि दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों पर भी खुफिया तंत्र के जरिए नजर रखी जाएं ताकि भीड़ में छिप कर कोई अराजक तत्व अयोध्या न पहुंचे और उसे पहले ही रोक दिया जाएं। 6 दिसंबर तक अयोध्या में हाई अलर्ट जोन पर है।

 
गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि पूरे शहर में सीआरपीएफ और पीएसी के साथ यूपी पुलिस की भारी तैनाती की गई है। गृह मंत्रालय की ओर से सुरक्षा बलों को खास निर्देश दिया गया है कि विवादित स्थल पर मौजूदा व्यवस्था से कोई छेड़छाड़ नहीं होनी चाहिए। रामजन्मभूमि के अंदर और बाहर अतिरिक्त सुरक्षा बदलों की तैनाती की गई है। परिसर के पास सिर्फ उन्हें ही जाने की अनुमति है जो दर्शन के मकसद से वहां जाना चाहते हैं।


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *