0

कर्नाटक में मेकुनु चक्रवात समुद्री जिलों के निकट तक पहुंच गया है। चक्रवात से प्रभावित जिलों में प्रशासन को सतर्क कर दिया गया है। इस बाबत स्‍थानीय लोगों को भी हिदायत दी गई है। इसी के चलते नेशनल डिजाजस्टर मैनेंजमेंट अथॉरिटी ने कर्नाटक के लिए रेड अलर्ट जारी किया है।

इसके तहत कर्नाटक के सुदूर पूर्व के इलाकों खासकर समुद्री इलाकों के लिए भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। कर्नाटक के कुछ हिस्सों में भारी बारिश के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अधिकारियों से बात की और उनसे यह सुनिश्चित करने को कहा कि प्रभावित क्षेत्रों में सभी तरह की संभावित मदद पहुंच सके।

उधर, दक्षिण कन्नड़ और उदुपी के तटीय जिलों में लगातार तीसरे दिन भी मूसलाधार बारिश जारी है। इससे निचले इलाके और यातायात पूरी तरह से प्रभावित हुआ है । यहां सड़कें डूब गईं हैं। इससे सामान्य जनजीवन प्रभावित हो गया है।

केरल में मंगलवार को मानसून पहुंचने साथ ही केरल के समुद्री इलाकों और कर्नाटक के मैंगलोर में भारी बारिश हुई। कर्नाटक में भारी बारिश की संभावना को देखते हुए स्कूल, कॉलेज और अन्य शैक्षणिक संस्थान और बाजार बंद रहे। जिन इलाकों में भारी बारिश देखी गई वहां कई पेड़ जड़ से उखड़ गए और बाढ़ जैसे हालात हो गए।

पीएम नरेंद्र मोदी ने इस संबंध में ट्वीट कर कहा कि कर्नाटक के अलग-अलग हिस्सों में बारिश से प्रभावित होने वाले सभी लोगों की सुरक्षा और बेहतरी की कामना करता हूं। गृह मंत्रालय ने कहा कि उसने मेंगलौर में स्थिति की समीक्षा की है और राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की कुछ अतिरिक्त टीमों को राहत और बचाव कार्य में स्थानीय प्रशासन की मदद करने के लिए भेजा है।
इनपुट: JMB


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: