अटल जी के नाम पर स्कीम, मिलेगा 60 हज़ार सलाना, बस देना होगा 250 रुपए हर महीने, जानिए पूरी प्रॉसेस

1 min


0

देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर चल रही इस पेंशन स्कीम से आज 1 करोड़ से ज्यादा लोग जुड़ चुके हैं। स्कीम का नाम है अटल पेंशन योजना, जिसे मई 2015 में शुरू किया गया था। स्कीम भविष्य में एक तय आमदनी की गारंटी देती है और इससे 18 साल से 40 साल की उम्र का कोई भी देश का नागरिक जुड़ सकता है। योजना की खास बात है कि इसमें सिर्फ 210 रुपए मंथली निवेश करने पर सरकार 60 की उम्र के बाद आजीवन 60 हजार रुपए सालाना देगी यानी 5 हजार रुपए महीना।
 

 
योजना की खासियत है कि इसमें कोई जितनी कम उम्र में जुड़ेगा, उसे लाभ उतना ही ज्यादा मिलेगा। इसके अलावा भी इसके तहत 48 हजार सालाना, 36 हजार सालाना, 24 हजार सालाना और 12 हजार रुपए सालाना पेंशन का प्लान है, जिसमें निवेश कम करना होता है। योजना में कम से कम 20 साल तक योगदान करना जरूरी है।
आइए जानते हैं कि योजना का लाभ आप कैसे उठा सकते हैं
 

 
फायदे
-इस स्कीम में निवेश इतना कम है कि आपकी दूसरी बचत योजनाओं पर खास असर नहीं होगा।
-भविष्‍य के लिए जितनी बचत योजनाएं हों, उतना ही आराम से जीवन बसर हो सकेगा।
-हर महीने 200 या 250 रुपए बचत का इंतजाम करना भी बेहद आसान है।
-सरकारी स्कीम होने के चलते आपका पैसा पूरी तरह से सुरक्षित रहेगा।
-योजना में 18 साल से 40 साल तक कोई भी देश का नागरिक शामिल हो सकता है।
 
10 रुपए मंथली निवेश का प्लान
अगर आप 18 साल में इस योजना से जुड़ जाते हैं तो आपके निवेश की लिमिट 42 रुपए से 210 रुपए प्रति माह होगी। 210 रुपए के प्रति माह निवेश पर आपको 60 साल के होने पर आजीवन 5000 रुपए महीने यानी 48 हजार रुपए सालाना मिलते रहेंगे। लेकिन 18 साल से ज्यादा उम्र में योजना से जुड़ते हैं तो उम्र के हिसाब से मंथली योगदान भी बढ़ता जाएगा। 25 साल में 376 रुपए, 30 साल में 577 रुपए और 40 साल में 1454 रुपए मंथली योगदान करना होगा।
कम उम में जुड़ने का ज्यादा फायदा
अगर 18 साल की उम्र से ही निवेश शुरू करते हैं तो 210 रुपए मंथली के लिहाज से 42 साल में कुल निवेश सिर्फ 1.05 लाख रुपए होगा। जिसके बाद आपको आजीवन 5000 रुपए महीना मिलता रहेगा।
वहीं, अगर 40 की उम्र में निवेश करते हैं तो 1454 रुपए मंथली के लिहाज से 20 साल में करीब 3.49 लाख रुपए निवेश करना होगा, जिसके बाद आजीवन 5000 3रुपए मंथली मिलता रहेगा। ऐसे में बराबर लाभ के लिए करीब 2.43
क्या है जरूरी
योजना से जुड़ने के लिए बैंक में एक बचत खाता और आधार कार्ड होना जरूरी है। इसमें योगदान करने की मिनिमम अवधि 20 साल है। स्कीम में अलग-अलग ब्रैकेट के तहत 42 रुपए मंथली से 1454 रुपए मंथली और 248 रुपए छमाही से 8581 रुपए‍ छमाही जमा किया जा सकता है। 60 साल की उम्र होने के बाद सरकार मंथली बेसिस पर पेंशन देना शुरू कर देती है।

योजना का सबसे बड़ा लाभ
http://www.pfrda.org.in/ पर दी गई जानकारी के अनुसार योजना के तहत निवेश करने वाले की अगर डेथ हो जाए तो उसके पति या पत्नी अकाउंट में योगदान जारी रखकर योजना का लाभ पा सकते हैं। दूसरा विकल्प है कि डेथ होने पर पति या पत्नी एक मुश्‍त 8.5 लाख रुपए पा सकते हैं। वहीं दोनों की डेथ होने पर यह रकम किसी अन्य नॉमिनी को


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *