सिवान के इस गांव में अचानक हुई घटना से सन्नाटा, हनुमान मंदिर परिसर में पुजारी ने फंदे से लटक कर दी जान


सीवान : आंदर थाना क्षेत्र के नरेंद्रपुर गांव के हनुमान मंदिर परिसर में एक पुजारी ने फंदे से लटक कर खुदकशी कर ली. घटना रविवार की रात की बतायी जा रही है. वहीं, पुजारी की पहचान संत बालेश्वर दास (30) के रूप में हुई है, जो एक माह से मंदिर में पुजारी के रूप में सेवा दे रहे थे. मालूम हो कि करीब एक साल से मंदिर के पुजारी रघुनाथ दास थे.

इस संबंध में ग्रामीणों ने बताया कि एक माह पूर्व बालेश्वर दास आये थे. पुजारी बालेश्वर से लोगों की कोई खास जान-पहचान नहीं थी. वहीं, उनका स्थायी पता भी किसी को मालूम नहीं है. रघुनाथ दास का कहना है कि रविवार की रात को हम दोनों ने भोजन में लिट्टी-चोखा बना कर खाया. उसके बाद मैं अपने कमरे में सोने के लिए चला गया. सुबह मंदिर धोने के लिए जब मैं गया, तो मंदिर का दरवाजा अंदर से बंद था और बालेश्वर दास फंदे से लटक रहे थे. गांव वालों और पुलिस के मदद से मंदिर में प्रवेश कर शव को नीचे उतारा गया.

थानाध्यक्ष विनय कुमार ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर यूडी केस दर्ज कर पोस्टमार्टम के लिए सीवान भेज दिया गया है. वहीं, स्थानीय स्तर पर कई तरह की चर्चा है. ग्रामीणों का कहना है कि रघुनाथ दास से बालेश्वर दास की नहीं बनती थी. कुछ ग्रामीणों ने दबी जबान से रघुनाथ दास के आचरण को भी इस घटना का जिम्मेवार ठहराया. लेकिन, कोई भी ग्रामीण मुखर होकर पुलिस को कुछ बताने के लिए सामने नहीं आया. गांव में कई तरह की चर्चा हो रही है. पुलिस भी मामले को संदिग्ध मान कर जांच में जुटी है.
इनपुट:PKM

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सिवान के इस गांव में अचानक हुई घटना से सन्नाटा, हनुमान मंदिर परिसर में पुजारी ने फंदे से लटक कर दी जान

log in

reset password

Back to
log in
error: Content is protected !!