शहनवाज़ का भागलपुर को एक और ज़बरदस्त तोहफ़ा, भागलपुर शहर के लिए शुरू हुआ इस बड़े बदलाव का काम


भागलपुर के लिए शाहनवाज़ हूसेन का एक और प्रयास मूत्र रूप में तब्दील होने के रास्ते पर निकल पड़ा हैं. विक्रमशिला पूल के समानांतर निर्माण के लिए एक और पूल की सहमति दर्ज हो गयी हैं और यह अपडेट भागलपुर और वहा के सारे निवासियों के लिए काफ़ी सुकून देने वाला हैं.

विक्रमशिला के समानांतर पुल के संपर्क पथ के लिए चार मौजा की जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा। पुल निर्माण निगम ने जमीन अधिग्रहण के लिए प्रस्ताव (अधियाचना) जिला प्रशासन को भेज दिया है। जिला भू-अर्जन कार्यालय सामाजिक प्रभाव आकलन की रिपोर्ट मिलने के बाद अधिसूचना जारी करेगा।.

Advertisements

 

समानांतर पुल बनने से होगा शहर का विकास

विक्रमशिला पुल के पूरब सामानांतरण पुल बनाया जाएगा। अधिग्रहण करने वाली जमीन का प्राक्कलन 59 करोड़ 12 लाख रुपये आंका गया है। इसके लिए मखुजान मौजा की 10.98 एकड़, महादेवपुर मौजा की 35.53 एकड़, परबत्ता मौजा की .48 एकड़ और भागलपुर नगर निगम मौजा की 4.41 एकड़ जमीन का अधिग्रहण करना है। पुल निर्माण निगम द्वारा रैयतों की सूची भी तैयार कर ली गयी है।

 

 

पुल निर्माण निगम के वरीय परियोजना प्रबंधक राम सुरेश राय ने बताया कि जिला प्रशासन को जमीन का अधिग्रहण करना है। इसके लिए अधियाचना भेज दी गयी है। प्राक्कलन को स्वीकृति के लिए पथ निर्माण विभाग को भेजा जाएगा। प्राक्कलन स्वीकृति के बाद भारत सरकार से पुल निर्माण की स्वीकृति मिलेगी। जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू होने के बाद एनएच में शामिल करने और पुल निर्माण की स्वीकृति केन्द्र सरकार से मिलेगी। उम्मीद है कि पथ निर्माण विभाग से 10 दिनों में प्राक्कलन की स्वीकृति मिल जाएगी।

 

 

पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा ने 27 सितम्बर को बिहार राज्य पुल निर्माण निगम के अध्यक्ष को पत्र भेजकर प्राक्कलित राशि की प्रशासनिक स्वीकृति के लिए प्रस्ताव विभाग को भेजने का निर्देश दिया था। प्रधान सचिव ने भागलपुर डीएम को अधियाचना प्राप्त होने पर समय से जमीन अधिग्रहण की कार्रवाई करने को कहा है।

 

 

विक्रमशिला पुल पर गाड़ियों का लोड बढ़ गया है। धीरे-धीरे पुल कमजोर भी होती जा रही है। गाड़ियों के लोड के चलते अक्सर शहर में जाम की स्थिति उत्पन्न हो रही है। शहर का विस्तार नहीं होने का एक कारण इसे भी माना जा रहा है। समानांतर पुल बनने पर सबौर और आसपास के क्षेत्र में शहर का विकास होगा। फोरलेन से भी पुल को जोड़ने की योजना है। यातायात व्यवस्था बेहतर होने पर भागलपुर में कल-कारखाने खुल सकते हैं। दूसरे शहरों के व्यापारी भी यहां आसानी से आ-जा सकते हैं। .

Advertisements
Loading...

Like it? Share with your friends!

0

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

शहनवाज़ का भागलपुर को एक और ज़बरदस्त तोहफ़ा, भागलपुर शहर के लिए शुरू हुआ इस बड़े बदलाव का काम

log in

Become a part of our community!

reset password

Back to
log in
Bitnami