भागलपुर में अभी अभी एक और हादसा, गंगा में डूबी चार साल की बच्ची, शव की तलाश जारी


भागलपुर में सोमवार को एक और हादसे की खबर सामने ये आई है. जिसके तहत यह कहा जा रहा है की एक छोटी बच्ची गंगा नदी में स्नान करने के दौरान डूब गई. बच्ची उम्र करीब चार साल बताई जा रही है. वह गंगा में अपने कुछ साथियों के साथ स्नान करने गयी थी. इस दौरान बच्ची पानी में कहीं गम हो गई. बच्ची के शव की तलाश जारी है. यह दुखद घटना जिलें के पीरपैंती के रानी दियारा की है.

भागलपुर से हैं जाने यह भी खबर: मोहद्दीनगर स्थित ठठेरी टोला में जर्जर मकान ढहने से मलबे में दबकर स्वर्णकार सुभाष साह की पांच वर्षीय बेटी आरोही की मौके पर ही मौत हो गई. पास खड़ी पिंकी देवी और उसका डेढ़ साल का बेटा वंश भी बुरी तरह जख्मी हो गया. दोनों को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जर्जर मकान को वार्ड-50 के पार्षद प्रतिनिधि ढहवा रहे थे. मृतका के पिता के बयान पर शशि मोदी के खिलाफ बरारी पुलिस चौकी में मामला दर्ज कर लिया गया है. आरोही अपने परिवार की इकलौती बेटी थी.

वह कुतुबगंज के गेंदा विद्या निकेतन में एलकेजी की छात्रा थी. हादसे से साह परिवार का आंगन सूना हो गया. मृतका के पिता सुभाष के मुताबिक उसके घर के समीप सुरेश साह के मकान को वार्ड 50 के पार्षद प्रतिनिधि शशि मोदी ने खरीद लिया है. वे कई दिनों से जर्जर मकान को ढहवाने का काम करा रहे थे. रविवार सुबह भी जब काम शुरू हुआ तो सुभाष ने मजदूरों से कहा कि बच्चे खेल रहे हैं, जरा संभलकर काम करें. शशि मोदी को भी कई बार कहा था कि वे सुरक्षा इंतजाम करने के बाद काम करवाएं.मगर शशि ने सुभाष की बात को अनसुना कर दिया. फिर हुआ वही जिसका डर था. छत का मलबा उसकी बच्ची पर गिर गया, जिससे वहीं उसकी मौत हो गई.

इधर, इलाके में हादसा होने के बाद भी पुलिस एक घंटे तक घटना से इन्कार करती रही. बबरगंज चौकी प्रभारी के गैर जिम्मेदाराना रवैये से स्थानीय लोगों में काफी आक्रोश है. उनका कहना है कि पार्षद प्रतिनिधि के प्रभाव में आकर चौकी प्रभारी घटना को ले अनभिज्ञता जाहिर कर रहे हैं. एसएसपी आशीष भारती के जानकारी देने पर पुलिस हरकत में आई. बरारी पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करा परिजन को सौंप दिया है.
इनपुट:JMB

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

भागलपुर में अभी अभी एक और हादसा, गंगा में डूबी चार साल की बच्ची, शव की तलाश जारी

log in

reset password

Back to
log in
error: Content is protected !!