भागलपुर में अपने जवानों को थका हुआ देख एसएसपी नहीं रोक सके अपने कदम और खुद करने लगे यह काम


भागलपुर. बिहार, बंगाल और झारखंड को जोड़ने वाले फरक्का ब्रिज की नवंबर से चल रही मरम्मत का असर अब भागलपुर में दिखने लगा है। नेशनल हाईवे 34 पर 2240 मीटर लंबे ब्रिज की मरम्मत के कारण बंगाल सरकार ने ट्रैफिक डायवर्ट कर दिया है। डबल एक्सल गाड़ियां (भारी वाहनों) को पुल पर प्रतिबंधित करने से रोजाना 12 हजार ट्रक गुवाहाटी जाने के लिए भागलपुर का रुख कर लिया है। इससे एनएच-80 पर 24 घंटे में गुजरने वाले ट्रकों की संख्या तकरीबन 32 हजार हो गई। इस कारण शहर में जाम लगना शुरू हो गया है। गुरुवार रात 10 बजे से शुक्रवार दोपहर 2 बजे तक 16 घंटे जाम रहा।

फरक्का ब्रिज की मरम्मत से एनएच-80 पर बढ़े 12 हजार भारी वाहन
फरक्का ब्रिज की चल रही मरम्मत के कारण बंगाल और गुवाहाटी जाने वाले भारी वाहनों पर लगी रोक ने भागलपुर की परेशानी बढ़ा दी है। बंगाल सरकार ने एनएच-34 के रास्ते बंगाल जाने वाले वाहनों के रूट डायवर्ट किए तो करीब 12 हजार ट्रक-ट्रॉलियों ने भागलपुर से गुजर रहे एनएच-80 और असम को जोड़ने वाले एनएच-31 पर अपना रास्ता बना लिया।

इससे भागलपुर से रोजाना गुजर रहे करीब 20 हजार भारी वाहनों के साथ 12 हजार नए वाहनों का बोझ बढ़ गया और लगातार तीसरे दिन शुक्रवार को पूरे शहर में जाम लगा रहा। नवगछिया से गुजर रहे एनएच-31 पर भी वाहनों की कतार लग गई। कुरसेला से भागलपुर तक वाहनों के थमे पहियों ने शहरवासियों की परेशानी बढ़ा दी। 16 घंटे तक लोग अपने ही शहर की सड़कों पर कैद हो गए। हालांकि पुलिस ने व्यवस्था बनाई। एसएसपी खुद विक्रमशिला पुल तक पहुंचे। गुरुवार रात 10 बजे से लगा जाम शुक्रवार दोपहर 2 बजे तक छूटा और लोगों ने राहत की सांस ली।

थक गए जवान तो एसएसपी उतरे सड़क पर
ट्रैफिक संभालने के लिए प्रभारी संजय कुमार झा ने सभी चौक-चौराहों पर जवान तैनात किए। तिलकामांझी चौक पर 6, कचहरी चौक पर 2, जीरोमाइल पर 6, विक्रमशिला पुल के पास 6, पुल पर 4, लोहिया पुल पर 2 जवान ट्रैफिक नियंत्रित करते नजर आए। लेकिन वाहनों की संख्या के आगे वे दोपहर 1 बजे तक थक गए। तब एसएसपी विक्रमशिला पुल पर पहुंचे। यहां दो ट्रक खराब थे। उन्होंने बरारी, जीरोमाइल थानेदार, टीओपी पुलिस को क्रेन से ट्रक हटाने के निर्देश दिए।
इनपुट: DBC

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

भागलपुर में अपने जवानों को थका हुआ देख एसएसपी नहीं रोक सके अपने कदम और खुद करने लगे यह काम

log in

reset password

Back to
log in
error: Content is protected !!