भागलपुर: तीन दिन के अंदर पुल मरम्मत करें, वरना तोड़ कर रास्ता दें!


भागलपुर : जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने 150 साल पुराना मसाढ़ू पुल को तीन दिनों के भीतर मरम्मत कर चालू करने या फिर उसे तोड़ कर रास्ता बनाने का स्पष्ट निर्देश दिया है. इस बारे में एनएच को लिखे पत्र में डीएम ने जर्जर पुल का हवाला देते हुए हो रहे वाहन परिचालन को खतरनाक बताया है. काफी दिनों से दरार वाले पुल पर वाहनों की आवाजाही हो रही है, इससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है. डीएम ने बताया कि पुल को तोड़ कर बनाये हुए रास्ते पर तत्काल वाहन चलेगा.

Advertisements

एनएच-80 पर स्थित है पुल
भागलपुर को फरक्का से जोड़ने वाले एनएच 80 पर मसाढ़ू पुल स्थित है. इस पुल में दरार बढ़ती ही जा रही है. पुल की नींव खोखली होती जा रही है. इंगलिश और लैलख के बीच ब्रिटिश काल में बने पुल के क्षतिग्रस्त होने से यह अब चलने वाला नहीं है. नये पुल बनाने वाले कांट्रैक्टर ने भी एनएच को वर्तमान पुल के जर्जर होने के बारे में सचेत कर रखा है.

Advertisements

वाहन परिचालन प्रतिबंधित वाला बोर्ड महज खानापूर्ति
एनएच विभाग द्वारा भारी वाहनों के परिचालन पर रोक से संबंधित केवल सूचक बोर्ड लगा कर खानापूरी की गयी है. पुल से होकर छोटी वाहनों का गुजरना अनवरत जारी है.

20 जून 2016 को हुई थी दरार की मरम्मत
20 जून, 2016 में पुल में आयी दरार का केवल ऊपरी तौर पर मरम्मत हुआ था. फिर भी यह दो साल तक चला. एनएच के प्रशासनिक अधिकारी की अनदेखी से बड़ी घटना हो सकती है.

डायवर्सन का प्रस्ताव भी ठंडे बस्ते में
मसाढ़ू पुल के पास नये पुल का प्रस्ताव पटना की कार्य एजेंसी पलक इंफ्रा प्रोजेक्ट लिमिटेड को मिला है. कार्य एजेंसी ने एनएच को डायवर्सन निर्माण का प्रस्ताव दिया है. प्रस्ताव देने के कई माह बीत चुके है मगर, इसको विभागीय अधिकारी अभी तक मंजूर नहीं किये हैं.

जमीन अधिग्रहण की पेच में फंसा है नया पुल
पुराने पुल के बगल में नये पुल का निर्माण जमीन अधिग्रहण की पेच में है. विभाग ने जमीन का अधिग्रहण करके कांट्रैक्टर को नहीं दिया है.
इनपुट:पीकेएम


Like it? Share with your friends!

0

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

भागलपुर: तीन दिन के अंदर पुल मरम्मत करें, वरना तोड़ कर रास्ता दें!

log in

Become a part of our community!

reset password

Back to
log in
Bitnami