भागलपुर: उफनाई गंगा, भीषण कटाव शुरू, बजरंगबली का मंदिर नदी में समाया


भागलपुर(कहलगांव): पीरपैंती के रानीदियारा में कटाव काफी तेजी से हो रहा है। जिसको लेकर ग्रामीणों में भय व्याप्त है। कटाव को लेकर ग्रामीण रतजगा कर रहे हैं। कटाव इतना विकराल था कि गांव के बाहर गंगा से काफी दूरी पर स्थित बजरंग वली का मंदिर भी कटाव की जद में आकर गंगा में समा गया है। ग्रामीण शिवशंकर कुमार, बिट्टू कुमार,राकेश कुमार,संजय कुमार ने बताया कि शुक्रवार को कटाव का रूप काफी भयानक था। जिसको लेकर आसपास व गंगा किनारे के घर में रहने वाले लोगो में काफी दहशत है। ग्रामीणों ने बताया कि नरेश मंडल,बच्ची मंडल, अशोक मंडल,शुशील मंडल, अरविंद कापरी,मनिकांत कापरी, बागेश्वर मंडल,जंगली मंडल, नंदलाल मंडल, केलो मंडल, बैजनाथ मंडल, फोदी मंडल, बरमी मंडल, बुटी यादव,मुसाय यादव, अरूण यादव, सुनील यादव, डोमी मंडल, कैलू यादव, युमी यादव, हरदेव मंडल, तारनी मंडल, रामानंद शर्मा, योगेंद्र शर्मा, आनंदी यादव, भूपाल मंडल, हजारी मंडल,प्रकाश कापरी, श्रीकांत कापरी, जगदीश मंडल, गोपाल मंडल, अशोक मंडल का घर कटाव के कारण गंगा में समा चुका है।

नहीं शुरू हुआ कटाव निरोधी काम: ग्रामीणों ने बताया कि अबतक सरकारी तौर पर कटाव से संबंघित कोई भी काम प्रारंभ नहीं किया जा सका है। जिसको लेकर ग्रामीणों में काफी आक्रोश है।एसडीओ सुजय कुमार सिंह ने बताया कि कटाव को रोकने व राहत का काम जारी है। लेकिन जलस्तर में बढ़ोत्तरी के कारण कटाव को रोक पाना थोड़ा कठिन है। फिर भी विभाग प्रयास कर रहा है।

गंगा जलस्तर में वृद्धि से नवटोलिया में कटाव जारी: नारायणपुर प्रखंड के नवटोलिया काली मंदिर व बजरंगबली स्थान के पास बांध में गंगा के जलस्तर में वृद्धि से कटाव जारी हो गया है।पंचायत समिति सदस्य प्रतिनिधि रणधीर कुमार व मुखिया प्रतिनिधि प्रीतम मिश्रा ने बाढ़ नियंत्रण विभाग खगड़िया के कार्यपालक अभियंता अजय कुमार व जेईई नरेन्द्र कुमार को दूरभाष पर इसकी सूचना देकर कटाव की फोटो भेजी है। कार्यपालक अभियंता ने बताया कि शनिवार से काम होगा। ग्रामीण सौदागर मंडल, रणजीत कुमार, विनीत चौधरी, दीपक चौधरी, पंकज चौधरी ने बताया कि गंगा के जलस्तर में वृद्धि होने से बांध के कटने का खतरा बढ़ गया है।
नारायणपुर के नवटोलिया में जारी कटाव।

गंगा खतरे के निशान से 45 सेंटीमीटर दूर: कहलगांव में गंगा खतरे के निशान से महज 45 सेंटीमीटर दूर है। केन्द्रीय जल आयोग के लक्ष्मण प्रसाद ने बताया कि शुक्रवार को कहलगांव में गंगा का जलस्तर 30़.64 सेंटीमीटर है। जबकि कहलगांव में खतरे का निशान31.09 सेंटीमीटर है। उन्होंने बताया कि कहल गांव में गंगा प्रति चार घंटे में एक सेंटीमीटर के हिसाब से बढ़ रही है। जलस्तर में लगातार हो रही वृद्धि से बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है।
इनपुट: DBC


Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

भागलपुर: उफनाई गंगा, भीषण कटाव शुरू, बजरंगबली का मंदिर नदी में समाया

log in

reset password

Back to
log in
error: Content is protected !!