भागलपुर आसपास: ट्रेन की चपेट में आया ट्रैक्टर, होते-होते बचा बड़ा ट्रेन हादसा


बुधवार की शाम सुल्तानगंज में एक बड़ा ट्रेन हादसा होते-होते बचा। रेल ट्रैक पर ट्रैक्टर के इंजन का पहिया एवं उसमें लगा हलनुमा फार फंस गया और इसी बीच डाउन रेल ट्रैक पर आ रही ट्रेन उससे जा टकरायी। जिससे वारदात स्थल के कुछ आगे जाकर ट्रेन के रूकने पर कुछ देर के लिए अफरा-तफरी मच गई। स्टेशन अधीक्षक सुनील कुमार ने बताया कि अनाधिकृत रूप से ट्रैक्टर पार करने के आरोप में आरपीएफ थाना में मामला दर्ज कराया जाएगा।

घटना की सूचना पर पहुंची आरपीएफ इंचार्ज एस के सुधा दल बल के साथ एवं पीडब्लूआई मनीष कुमार घटनास्थल पर पहुंच कर क्षतिग्रस्त ट्रैक्टर के मलबे को ग्रामीणों के सहयोग से हटवाया।तब जाकर अप लाईन पर परिचालन सामान्य हुआ। इधर घटना को अंजाम देने वाला जमालपुर साहेबगंज पैसेंजर सुल्तानगंज स्टेशन पर 6:35 से खड़ी रही।जो 8:40 में खुली। इस दौरान यात्रियों को काफी परेशानी होती रही। यात्रियों ने बताया कि ऊपर वाले का शुक्र था कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ।तथा ट्रेन को कुछ नहीं हुआ।

सुल्तानगंज- जमालपुर रेल खंड पर कमरगंज स्थित मंझली बांध के समीप केमी पोल संख्या 335/5-6 के समीप बिना समपार फाटक के करीब खेत जोतकर आ रहा ट्रैक्टर रेल ट्रैक पार करने लगा। जहां उसका पहिया एवं फार के ट्रैक में फंस जाने पर डाउन रेल ट्रैक पर आ रही ट्रेन जमालपुर-साहेबगंज पैसेंजर से ट्रैक्टर इंजन जा टकराया। जिसके चलते ट्रैक्टर क्षतिग्रस्त हो गया। बताया जाता है कि इसके पूर्व ट्रैक्टर के निकलते नहीं देख चालक ट्रैक्टर छोड़कर भाग खड़ा हुआ। इधर ट्रेन से टकराने के बाद ट्रैक्टर इंजन समेत लगे फार के मलबे अप रेल ट्रैक पर जा फेंकाया। उधर अप रेल ट्रैक पर एक मालगाड़ी आ रही थी। हादसा स्थल पर अप रेल ट्रैक पर मलबा एवं ट्रैक बाधित देख, हादसे का शिकार हुए ट्रेन के गार्ड एवं चालक ने अप रेल ट्रैक आ रही मालगाड़ी को लाल बत्ती दिखाकर ड्राइवर को सारी घटना से अवगत कराया तथा मालगाड़ी को खड़ा कराया। स्टेशन प्रबंधक राजेश बिहारी भारती ने बताया कि मालगाड़ी सुल्तानगंज से 5:46 में खुला था। जो 5:51 से घटनास्थल के पास खड़ी रही। तथा लाईन क्लियर होने पर 7:24 में गनगनिया पहुंची।
इनपुट:डीबीसी

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

भागलपुर आसपास: ट्रेन की चपेट में आया ट्रैक्टर, होते-होते बचा बड़ा ट्रेन हादसा

log in

reset password

Back to
log in
error: Content is protected !!