बिहार की इस मासूम बच्ची का क्या था कसूर, दिन के 2 बजे हुआ अपहरण, कौन है जिम्मेदार, कहां है सुशासन?


बिहार के पूर्णिया जिले में दिनदहाड़े अपराधियों ने बच्ची का अपहरण कर लिया। बच्ची स्कूल से घर लौट रही थी। इसी दौरान अपराधियों ने वारदात को अंजाम दिया है। बच्ची के बस से उतरते ही अपराधी जबरदस्ती उसे कार में बिठाकर ले गए। घटना दिन के 2 बजे की है। दिनदहाड़े हुए अपहरण के इस घटना से लोगों में आक्रोश है।

सीटीटीवी में कैद हुई वारदात
मिली जानकारी के मुताबिक बच्ची जैसे ही बस से उतरी एक बदमाश उस बच्ची को उठाकर जबरदस्ती कार में बिठाया और वहां से फरार हो गए। बच्ची को अपहरण करने के लिए अपराधी उजले रंग की कार से आए थे। घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। घटना पूर्णिया के भीड़भाड़ वाले इलाके गुलाबबाग की है। बच्ची का नाम नाव्या बताया जा रहा है। नाव्या ब्राइट करियर स्कूल में तीसरी कक्षा की छात्रा है।

परिजनों से जब इस बारे में बात की गई तो उनका कहना है कि उन्हें अब तक किसी का फोन नहीं आया है, उन्हें समझ नहीं आ रहा है कि अपहरणकर्ताओं ने किस मकसद से बच्ची का अपहरण किया है। इस घटना से इलाके के लोगों में आक्रोश है। लोगों ने बच्ची की सकुशल बरामदगी के लिए मुख्य मार्ग जाम कर दिया। लोगों की मांग है कि पुलिस जल्द अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार करे। पुलिस के आश्वासन के बाद जाम खुला।

इलाके में की गई नाकेबंदी
घटना की सूचना मिलते ही एसपी विशाल कुमार पुलिस टीम के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। एसपी ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही इलाके में नाकेबंदी कर दी गई है। आसपास के जिलों को अलर्ट कर दिया गया है। दूसरे जिलों के पुलिस अधिकारियों से घटना को लेकर बात हुई है। पुलिस को घटना से जुड़ी महत्वपूर्ण साक्ष्य मिले हैं। पुलिस बच्ची की सकुशल बरामदगी कर लेगी। आरोपी जल्द पुलिस हिरासत में होंगे।
INPUT:DBC

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिहार की इस मासूम बच्ची का क्या था कसूर, दिन के 2 बजे हुआ अपहरण, कौन है जिम्मेदार, कहां है सुशासन?

log in

reset password

Back to
log in
error: Content is protected !!