इस मामले में मोदी सरकार के खिलाफ जदयू खोल सकती है मोर्चा, तेज हुई आवाज, आरसीपी सिंह ने कहा हमारे साथ हो रही है नाइंसाफी


बिहार और केंद्र दोनों जगह NDA की सरकार हैं. लेकिन फिर भी अभी तक बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिल सका है, लेकिन इस मामले में अब जदयू केंद्र की बीजेपी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने की तैयारी में लग गई है. इसका उदाहरण आज 15 वें वित्त आयोग को लेकर आयोजित सर्वदलीय बैठक में देखने को मिल गया है जहां जदयू नेता ने अपनी मांग तेज कर दी. जदयू ने भी बैठक में एक बार फिर बिहार को विशेष राज्य के दर्जे की मांग की.

बैठक को संबोधित करते हुए जदयू नेता आरसीपी सिंह ने कहा कि हमने क्या अपराध किया जो हमारे साथ नाइंसाफी हो रही है. बिहार का शेयर 11.56 से घट कर 9.5 हो गया है. उन्होंने कहा कि भारत सरकार रघुराम राजन कमिटी रिपोर्ट भूल गई है, रघुराम राजन कमिटी ने कहा था, पिछड़े राज्यों को प्राथमिकता मिलनी चाहिए. आरसीपी सिंह ने कहा कि बिहार के 22 जिले बाढ़ प्रभावित हैं और बिहार में बाढ़ नेपाल के कारण आता है. हर साल हज़ारों करोड़ की बर्बादी होती है. फाइनेंस कमीशन को यह बताना चाहिए.

जबकि बैठक में मौजूद राजद नेता अब्दुल बारी सिद्दकी ने कहा कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिलना चाहिए और इसको सब लोग जोरदार ढंग से रखें. केंद्र और राज्य दोनों जगह अब एनडीए की सरकार है तो विशेेष राज्य का दर्जा मिलने में देरी क्यों हो रही है?

वहीं बैठक को संबोधित करते हुए विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि मेमोरेंडम में यह शामिल हो कि बिहार को मिले विशेष राज्य का दर्जा. पीएम ने जो विशेष पैकेज की घोषणा कि उसकी भी चर्चा हो.

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इस मामले में मोदी सरकार के खिलाफ जदयू खोल सकती है मोर्चा, तेज हुई आवाज, आरसीपी सिंह ने कहा हमारे साथ हो रही है नाइंसाफी

log in

reset password

Back to
log in
error: Content is protected !!