आप भी करते हैं जॉनसन एंड जॉनसन के प्रोडक्ट का इस्तमाल तो पढ़ लीजिये यह बड़ी खबर, लगा है बड़ा झटका


अमेरिका की सेंट लुइस सर्किट कोर्ट ने बेबी पाउडर बनाने वाली कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन पर 32 हजार करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है। कंपनी पर आरोप था कि इसके बेबी पाउडर के इस्तेमाल से कैंसर पनपता है। दुनिया भर से करीब 9 हजार महिलाओं ने जॉनसन एंड जॉनसन के खिलाफ शिकायत की थी। 6 हफ्ते चले ट्रायल के बाद अदालत ने जॉनसन एंड जॉनसन को दोषी माना। अदालत ने इन 9 हजार में से 22 महिलाओं के दावे को सही माना और कंपनी को निर्देश दिए कि वो इन महिलाओं को 32 हजार करोड़ रुपए का हर्जाना भरे। इन महिलाओं ने शिकायत की थी कि वो बेबी पाउडर का करीब एक दशक इस्तेमाल करती रहीं और यही उनके कैंसर का कारण बना। जांच की गई तो जॉनसन एंड जॉनसन बेबी पाउडर में एसबेस्टस के टुकड़े पाए गए।

इसकी मौजूदगी की वजह से पाउडर लंबे समय तक इस्तेमाल करने पर नुकसान पहुंचाता है। हालांकि जॉनसन एंड जॉनसन का कहना है कि- ‘फैसले तक पहुंचने की प्रक्रिया ठीक नहीं रही। तमाम सबूतों को नजरअंदाज किया गया। हम इससे निराश हैं और फैसले के खिलाफ अपील करेंगे।’
अदालत ने कहा कि- ‘एक बड़ी कंपनी होने के नाते जॉनसन एंड जॉनसन का कर्तव्य बनता है कि वो प्रोडक्ट मे गुणवत्ता रखे। लेकिन कंपनी ने ना गुणवत्ता का ख्याल रखा ना ही खतरे के बारे में कस्टमर को आगाह किया।’

कोर्ट ने पाया कि पाउडर में 1970 से एसबेस्टस का इस्तेमाल हो रहा था। हालांकि 2010 में यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने पाउडर के सैंपल में एसबेस्टस नहीं पाया था। पर अदालत ने कहा कि उस टेस्ट का तरीका सही नहीं था। इससे पहले भी जॉनसन एंड जॉनसन प्रोडक्ट की खराब गुणवत्ता को लेकर 4 केस में करीब 20 अरब रु. हार चुकी है।

जॉनसन एंड जॉनसन के खिलाफ इस कैंपेन की शुरुआत अमेरिकी महिला गेल इंघम ने की थी। करीब 2 दशक तक पाउडर इस्तेमाल करने के बाद इंघम को 1985 में कैंसर हो गया था। कीमोथेरेपी के बाद वो 1990 में ठीक हो गईं। कैंसर का कारण पता चलने पर इंघम ने पाउडर कंपनी के खिलाफ केस किया। अब इंघम कहती हैं- ‘मेरी बीमारी को ठीक हुए करीब 3 दशक हो चुके हैं। अब पैसा मेरे लिए ज्यादा मायने नहीं रखता, लेकिन कैंसर जैसी बीमारी की वजह से जो महिलाएं काफी-कुछ झेलती हैं, उनके लिए ये फैसला बड़ा न्याय है।’
इनपुट: DBC

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आप भी करते हैं जॉनसन एंड जॉनसन के प्रोडक्ट का इस्तमाल तो पढ़ लीजिये यह बड़ी खबर, लगा है बड़ा झटका

log in

reset password

Back to
log in
error: Content is protected !!