अभी अभी : मौसम विभाग का बड़ा चेतावनी। आज रात इन इलाको में भयंकर तूफान के संदेश रहे अलर्ट


मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि उत्तर प्रदेश के पश्चिमी हिस्सों में भयंकर आंधी तूफान आ सकता है। इससे पहले बुधवार को आए तूफान में 124 लोगों की जान जा चुकी है। गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल, ओडिशा, बिहार और उत्तर प्रदेश में आज आंधी तूफान आने की चेतावनी जारी की है। मंत्रालय ने कहा है कि पिछले दो दिनों के दौरान पांच राज्यों में आंधी तूफान और बिजली गिरने से 124 व्यक्तियों की मौत हो गई है और 300 से अधिक घायल हुए हैं। मौसम विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, बागपत और मेरठ में आंधी तूफान आने की आशंका है।

सबसे ज्यादा मौत उत्तर प्रदेश में :

बुधवार को आए आंधी तूफान में सबसे ज्यादा व्यक्तियों की मौत उत्तर प्रदेश में हुई। यूपी में 73 लोगों की जान गई है जबकि 91 अन्य घायल हो गए। वहीं राजस्थान में कुल मिलाकर 35 व्यक्तियों की मौत हुई और 206 घायल हो गए। वहीं तेलंगाना में आठ, उत्तराखंड में छह और पंजाब में दो व्यक्तियों की मौत हुई है। तेलंगाना, उत्तराखंड और पंजाब में करीब 100 व्यक्ति घायल हुए हैं।

 

आंधी के चलते बत्ती गुल :

तेज आंधी और तूफान के कारण कई जगहों पर अंधेरा छा गया है। पेड़ों के गिरने और बिजली के तार टूट जाने के कारण कई क्षेत्रों में बिजली की आपूर्ति बाधित हुई है। प्रभावित राज्यों में पिछले दो दिनों में बिजली के कम से कम 12000 खंभे गिर गए और 2500 ट्रांसफार्मर क्षतिग्रस्त हुए है।

 

चार राज्यों के अलावा यहां भी तूफान का खतरा :

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया है कि चार राज्यों पश्चिम बंगाल, ओडिशा, बिहार और उत्तर प्रदेश में तूफान आ सकता है इसके अलावा। असम और मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पंजाब, बिहार, झारखंड, सिक्किम, ओड़िशा, उत्तर पश्चिम मध्यप्रदेश, तेलंगाना, रायलसीमा, उत्तर तटवर्ती आंध्र प्रदेश, अंदरूनी तमिलनाडु और केरल में भी आंधी तूफान और तेज हवाएं चलने की आशंका है।

 

तूफान ने आगरा में मचाई थी सबसे ज्यादा तबाही :

बुधवार को आगरा में तेज हवाओं और आंधी की तबाही से बड़ी संख्या में लोगों की मौत के बाद भी तबाही का खतरा अभी टला नहीं है। प्रशासन ने दोबारा तूफान आने की आशंका जताते हुए लोगों के लिए परामर्श जारी किया है। मौसम विभाग की रिपोर्ट के बाद जिला प्रशासन ने परामर्श जारी की है। इसमें कहा गया है कि छह मई तक आगरा में दोबारा तूफान से तबाही हो सकती है। जिला प्रशासन द्वारा जारी किये गये परामर्श में तूफान के समय जान बचाने के लिए दिशानिर्देश दिए गए हैं।

 

तूफान और ओलावृष्टि ने मचाई तबाही, लाखों का हुआ नुकसान

आगरा में बीते 11 अप्रैल को भी 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चली हवा और बारिश से 18 लोगों की मौत हो गई थी और 50 से अधिक लोग घायल थे। आगरा के लोग इन हालात से बाहर भी नहीं आ सके थे कि बुधवार को 132 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से चली तूफानी हवाओं और बारिश ने 46 लोगों की जान ले ली। मौसम विभाग की रिपोर्ट के बाद आगरा के जिलाधिकारी गौरव दयाल ने परामर्श जारी किया है जिसमें कहा गया है कि छह मई तक दोबारा आंधी तूफान आ सकता है।

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अभी अभी : मौसम विभाग का बड़ा चेतावनी। आज रात इन इलाको में भयंकर तूफान के संदेश रहे अलर्ट

log in

reset password

Back to
log in
error: Content is protected !!