अभी अभी पूरा बिहार काँपा, अति दर्दनाक घटना पटना के सड़क पर, 17 साल की बेटी और 15 KM तक KWID गाड़ी…


बिहार की राजधानी पटना में बुधवार की शाम करीब 6 बजे विभत्स दुर्घटना हुई. रुपसपुर थाना क्षेत्र के चुल्हाईनगर के पास रेलान्ट कंपनी की क्विड कार ने करीब 17 साल के नाबालिग को रौंद दिया. इस दौरान उसकी बॉडी कार के बंफर में ही फंस गयी. इसके बाद कार चालक कार को लेकर भागने लगे. सड़कों पर देख रहे लोगों ने हल्ला मचाया, लेकिन वह नहीं रुके ओर आरओबी पर चढ़ गये. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गयी तत्काल वायरलेस पर मैसेज पास किया गया. शास्त्रीनगर, राजवीनगर, पाटलिपुत्रा समेत पांच थानों की पुलिस कार की घेराबंदी में जुट गयी.

Advertisements

आशियाना के पास पुलिस ने कार को ट्रेस कर लिया, लेकिन कार रामनगरी होते हुए राजीवनगर नाला रोड, लोहा गेट, इंद्रपुरी रोड नंबर पांच में पहुंच गयी. कार फूल स्पीड में थी, इसलिए एक ब्रेकर के पड़ने के दौरान कार में फंसी बॉडी इंद्रपुरी में गिर गयी. जबकि, कार वाले भागते रहे. कार में अभी एक पैर फंसा हुआ था. पब्लिक भी कार का पीछा करने लगी.

Advertisements

 

कार काे इंद्रपुरी से करीब डेढ़ किलोमीटर दूर पाटलिपुत्रा में लोटस अपार्टमेंट (चर्च के पास) पकड़ा गया. इस दौरान लोगों ने कार में सवार दो युवकों को पीटने लगी. इस बीच पीछे से पहुंची पुलिस ने दोनों को बचाया और पाटलिपुत्रा थाने में बैठा दिया. वहीं मृतक की पहचान नहीं हो सकी है. उसके शरीर के कपड़े गायब हैं. काेई ऐसी चीज नहीं मिली है जिससे पहचान हो सके. पुलिस का कहना है कि देखने से मजदूर लग रहा है, वह कहां का रहने वाला है, इसकी खोजबीन की जा रही है.

कार में सवार युवक बैंक कर्मी और दूसरा इंजीनियर का पुत्र है

पकड़े गये कार सवारों में अनिकेत चंद्रा और इंशात सिन्हा शामिल हैं. दोनों पाटलिपुत्रा के एक प्रतिष्ठित स्कूल में 11वीं के छात्र हैं. पूछताछ में जानकारी मिली है कि अनिकेत चंद्रा गाेसांई टोला मंगलदीप अपार्टमेंट का रहने वाला है. कार उसके पिता आलोक चंद्रा के नाम से है. आलोक चंद्रा पीएनबी बैंक के कर्मचारी हैं. वहीं इंशात के पिता मल्य कुमार सिन्हा सासाराम में इंजीनियर हैं और यहां नार्थ एसकेपुरी में रहते हैं. दोनों किसी काम से गोला रोड की तरफ गये थे. साथ में इनकी गर्लफ्रेंड भी थी, लेकिन पाटलिपुत्रा में दोनों कार से कूदकर भाग गयी.

वहीं मृतक की पहचान नहीं हो पायी है. पुलिस मामले की छानबीन में जुट गयी है. दोनों गोला रोड में क्या करने गये थे, इसकी जांच की जा रही है. इस विभत्स दुर्घटना के दौरान लोग इतने आक्रोशित थे कि कार में सवार दोनों छात्रों पर टूट पड़े, लेकिन पुलिस ने बचा लिया. पकड़े गये दोनों छात्रों में एक बालिग और दूसरा नाबालिग बताया जा रहा है.

 

कार में फंसी बॉडी के उड़े चिथड़े

कार में फंसने और करीब 15 किलोमीटर तक घसीटे जाने के कारण बॉडी के चिथड़े उड़ गये हैं. शरीर का कई हिस्सा इधर-उधर बिखर गया. इंद्रपुरी रोड नंबर-5 में बॉडी प्राप्त हुई है, आधा चेहरा बिल्कुल गायब था, हाथ और पैर की हड्डियां बाॅडी से अलग हो चुकी थी. फिलहाल लोटस अपार्टमेंट के पास से पुलिस कार को लेकर थाने जा रही थी. इस दौरान लोगों ने हल्दीराम के पास हंगामा किया. कार को सड़क पर पलट दिया, कार को क्षतिग्रस्त कर दिया. इधर, मौके पर पांच थानों की पुलिस, डीएसपी ला एंड आर्डर राकेश कुमार सिंह, सिटी एसपी पीके दास मौके पर पहुंचे. पुलिस ने लोगों को शांत किया. सड़क को खुलवाया गया. पुलिस ने कार से कई तरह के कागजात बरामद किया है.


Like it? Share with your friends!

0

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अभी अभी पूरा बिहार काँपा, अति दर्दनाक घटना पटना के सड़क पर, 17 साल की बेटी और 15 KM तक KWID गाड़ी…

log in

Become a part of our community!

reset password

Back to
log in
Bitnami